Press enter to see results or esc to cancel.

The 2-year-old video is being shared describing the encounter between India and China soldiers | 2 साल पुराने वीडियो को गलवान घाटी पर शहीद हुए 20 भारतीय जवानों से जोड़कर शेयर किया जा रहा – Dainik Bhaskar

दैनिक भास्कर

Jun 29, 2020, 07:53 PM IST

क्या वायरल : एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। इसमें सीमा पर तैनात भारतीय सैनिक नजर आ रहे हैं। यह सैनिक हथियारों से लैस हैं। दावा किया जा रहा है कि यह गलवान घाटी की उस मुठभेड़ का वीडियो है, जिसमें 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। 

  • अधिकतर पाकिस्तान के सोशल मीडिया अकाउंट्स द्वारा इस वीडियो को शेयर किया जा रहा है। 
  • अलग-अलग सोशल मीडिया अकाउंट्स से ये वीडियो गलवान घाटी पर 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद ही शेयर किया गया है। वीडियो के कैप्शन में भारतीय सेना के पराक्रम पर सवाल उठाए गए हैं और मजाक उड़ाया गया है। इसका अर्थ यही है कि वीडियो को गलवान घाटी की घटना से जोड़कर शेयर किया गया है। 

वीडियो के साथ किए गए कुछ ट्वीट

फेसबुक पर भी इसे शेयर किया जा रहा है

https://www.facebook.com/112519303642504/videos/723483628228366

फैक्ट चेक पड़ताल 

वीडियो में ‘रिफत वानी ऑफिशियल’ लिखा हुआ लोगो है। हमने इस नाम का ट्विटर अकाउंट चेक किया। यहां भी 21 जून 2020 को यह वीडियो ट्वीट किया गया है। कैप्शन लिखा है – कहीं पे निगाहें, कहीं पे निशाना।

  • फोटो को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें sohu.com नाम की चीनी वेबसाइट पर एक लेख मिला। 

  • 28 जून, 2020 के इस लेख में उसी घटना के फोटो हैं, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है। चीनी वेबसाइट के इस लेख में भारतीय सेना पर नर्वस होने का आरोप लगाया गया है। लिखा है – नर्वस भारतीय जवान गलवान घाटी में अभ्यास कर रहे हैं।
  • चीनी वेबसाइट के लेख से ये स्पष्ट हुआ कि वीडियो सेना के अभ्यास का है। गलवान घाटी की घटना का नहीं। लेकिन, अभी भी यह संदेह बाकि था कि वीडियो हाल ही में किए जा रहे अभ्यास का है या पहले का। क्योंकि चीन की वेबसाइट को इस मामले में विश्वसनीय नहीं माना जा सकता। 
  • Justice for Lieutenant Colonel Retired Habib Zahir नाम के फेसबुक पेज पर भी हमें यही वीडियो मिला। इस पेज पर यह वीडियो 10 नवंबर, 2018 को अपलोड किया गया है। 

https://www.facebook.com/1912425555642684/videos/759948254344455

  • अलग-अलग कीवर्ड्स से सर्च करने पर भी हमें इस वीडियो का विश्वसनीय विवरण नहीं मिला। लेकिन, चूंकि हमें 2018 में इस वीडियो के साथ शेयर की गई फेसबुक पोस्ट मिली। इससे यह स्पष्ट हो गया कि वीडियो कम से कम 2 साल पुराना है। और इसका गलवान घाटी में भारत-चीन की सेना के बीच हुई झड़प से कोई संबंध नहीं है। 

निष्कर्ष : गलवान घाटी की घटना का बताकर शेयर किया जा रहा वीडियो 2 साल पुराना है।