फैक्ट्स

क्या WHO के अनुसार विश्व के एक भी शाकाहारी व्यक्ति की मृत्यु नहीं हुई है? जानिए सच… – FactCrescendo

कोरोनावायरस महामारी के चलते सोशल मंचों पर गलत व भ्रामक खबरें वायरल होती चली आ रही है और फैक्ट क्रेसेंडो इन वायरल खबरों का अनुसंधान कर आप तक उनकी सच्चाई पहुँचाई है। एक ऐसी ही खबर इन दिनों इंटरनेट पर वायरल हो रही है, खबर के मुताबिक विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)  के अनुसार, पूरे विश्व में एक भी शाकाहारी व्यक्ति की मृत्यु कोरोनावायरस से नहीं हुई है। वायरल हो रहे पोस्ट में लिखा है,  WHO

फैक्ट्स

2019 में हुये वर्ल्ड कप के दौरान पाकिस्तान और खालिस्तान के लिए लगे नारों के वीडियो को वर्तमान किसान आंदोलन का बता वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

कुछ महिनों पहले संसद में कृषि बिल पास हुआ था, उसी को लेकर इनते दिनों देश भर में किसान आंदोलन कर रहे है। हालही में पंजाब, हरियाणा व अन्य राज्यों से हज़ारों की तादाद में किसान दिल्ली में प्रदर्शन करने के लिए निकलें हैं जिन्हें वर्तमान में दिल्ली से सटी अन्य राज्यों की सीमाओं पर रोका गया है। इसी के चलते किसान आंदोलन से जुड़ी कई गलत व भ्रामक दावे सोशल मंचों पर वायरल होते

फैक्ट्स

पुलिस के सामने लाठी ताने खड़ी महिला की तस्वीर पुरानी, लोगों ने किसान आन्दोलन से जोड़कर शेयर किया

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है. इसमें साड़ी पहनी एक महिला पुलिस वालों की तरफ लाठी ताने खड़ी है. लोग इसी शेयर करते हुए किसानों के विरोध प्रदर्शन का बता रहे हैं. इसके साथ अलग-अलग कैप्शन वायरल हैं लेकिन लगभग सभी में हालिया किसान आन्दोलन का सन्दर्भ दिया जा रहा है. ट्विटर यूज़र @Rofl_Kamra ने ये तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “नकली झांसी की रानी को देख चुके तो अब देखो

फैक्ट्स

म.न.से के नेता जमील शेख के जनाज़े की तस्वीर को कांग्रेस नेता अहमद पटेल के जनाज़े का बता वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

हालही में, बहु अंग विफलता की वजह से कांग्रेस नेता अहमद पटेल का देहांत हुआ था, उसी दौरान मुंबई से सटे ठाणे में म.न.से के नेता जमील शेख की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसी के चलते इंटरनेट पर दोनों की अंतिम यात्रा की तस्वीरें व वीडियो वायरल हो रहे है। सोशल मंचो पर एक तस्वीर काफी वायरल हो रही है, जिसमें आपको बड़ी संख्या में लोग मास्क पहने हुए नज़र आएंगे। इंटरनेट

फैक्ट्स

FactCheck:-क्या एन.सी के उम्मीदवार ठाकुर रामेश्वर सिंह के नामांकन रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गये? जानिए सच… – FactCrescendo

देश में हर जगह चुनाव का माहौल चल रहा है, हालही में बिहार में चुनाव संपन्न हुए है और अब जम्मू और कश्मीर में चुनाव की तैयारी हो रही है। इसी बीच इंटरनेट पर वायरल खबरों की बौछार लगी हुई है। फैक्ट क्रेसेंडो ने बिहार के चुनाव के दौरान उससे जुड़ी कई वायरल खबरों का अनुसंधान किया था और अब जम्मू और कश्मीर में हो रहे चुनाव की बारी है। इन दिनों सोशल मंचों पर

फैक्ट्स

Fact Check: No, this is not the video of Nihang Sikhs coming to Delhi to support farmers, viral post is fake

By Vishvas News Updated: December 1, 2020 नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इसके साथ दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए करीब बीस हजार निहंग सिख 2 हजार घोड़ों के साथ दिल्ली की तरफ कूच कर रहे हैं। विश्वास न्यूज़ ने वायरल वीडियो की पड़ताल की और पाया कि यह वीडियो

फैक्ट्स

Fact Check:- क्या उत्तराखंड कर रहा है हफ्ते में दो दिन के पूर्ण लॉकडाउन की तैयारी? जानिए सच… – FactCrescendo

सोशल मंचो पर वर्तमान कोरोना काल के चलते लॉकडाउन को लेकर कई गलत व भ्रामक खबरें वायरल होती चली आ रही है। फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसी कई खबरों का अनुसंधान किया है। इन दिनों सोशल मंचों पर उत्तराखंड को लेकर एक खबर काफी चर्चा में है। खबर के मुताबिक उत्तराखंड हफ्ते में दो दिन के पूर्ण लॉकडाउन की तैयारी कर रहा है, इस खबर के संबद्ध में एक समाचार पत्र की तस्वीर वायरल की जा

फैक्ट्स

Fact Check:- क्या गृह मंत्रालय ने सभी विद्यालय व क़ॉलेज 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है? जानिए सच… – FactCrescendo

कोरोनावायरस महामारी के चलते सोशल मंचो पर कई गलत व भ्रामक खबरें वायरल होती चली आ रही है। फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसी कई खबरों का अनुसंधान किया है। इन दिनों सोशल मंचों पर ऐसी ही एक खबर काफी चर्चा में है, खबर एक समाचार चैनल के ब्रेकिंग न्यूज़ कार्ड के रूप में है, जिसके मुताबिक गृह मंत्रालय ने सभी विद्यालय व कॉलेजों को 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है।  वायरल हो रहे

फैक्ट्स

फ्रांस में वैश्विक सुरक्षा कानून के खिलाफ आंदोलन को इमैनुएल मैक्रॉन के खिलाफ हुए आंदोलन का बता वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

पिछले दिनों फ्रांस के राष्ट्रपती इमैनुएल मैक्रॉन के एक बयान के चलते फ्रांस में मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा राष्ट्रपती इमैनुएल मैक्रॉन के खिलाफ प्रदर्शन किये गए थे, सोशल मंचो पर इन प्रदर्शनों को लेकर #BoycottFranceProducts जैसी मुहिम भी चलाई गयी थी, इन्ही सब के चलते काफी अन्य प्रदर्शनों के वीडियो व तस्वीरें सोशल मंचो पर इस प्रकरण से जोड़ भ्रामक व गलत दावों के साथ वायरल किए गए थे जिनका फैक्ट क्रेंसेंडो ने अनुसंधान

फैक्ट्स

महाराष्ट्र के 2019 विधानसभा चुनाव की तस्वीर को बिहार चुनावों से जोड़ गलत दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

हालही में बिहार में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों के चलते सोशल मंचो पर कई वीडियो व तस्वीरें गलत व भ्रामक दावों के साथ वायरल होती चली आ रही है। फैक्ट क्रेसेंडो उन सभी वायरल फेक खबरों की सच्चाई आप तक पहुँचाई है और आपको उन भ्रामक खबरों पर भरोसा करने से रोका है। वर्तमान में हमने ऐसी ही एक और खबर का सामना किया है जो सोशल मंचो पर काफी चर्चा में है। उस वायरल

फैक्ट्स

FACT CHECK:- क्या म्यांमार ने मुस्लिम समुदाय के लोगों के मतदान अधिकार को समाप्त कर दिया है? – FactCrescendo

पिछले दिनों में म्यांमार में चुनाव संपन्न हुए है, जिसके चलते सोशल मंचों पर कई गलत व भ्रामक खबरें वायरल की जा रही है, ऐसी ही एक खबर अभी काफी चर्चा में है। वायरल हो रही खबर के मुताबिक म्यांमार में मुस्लिम समुदाय के लोगों को उनके मतदान करने के अधिकार से वर्जित किया गया है। फेसबुक पोस्ट में लिखा है,  “म्यांमार दुनिया का पहला देश बना जहां मुसलमानों को मतदान का अधिकार समाप्त कर

फैक्ट्स

योगा गुरू तिरुमलाई कृष्णमाचार्य के योग के वीडियो को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बता वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

सोशल मंचो पर अकसर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सम्बंधित कुछ गलत व भ्रामक दावे वायरल होते चले आ रहे है, इन दिनों एक वीडियो सोशल मंचो पर बहुत तेज़ी से वायरल किया जा रहा है। यह वीडियो एक ब्लैक एंड वाईट वीडियो है जिसमें हम एक शख्स को योग आसन करते हुए देख सकते है। यह 8.24 मिनट का वीडियो है। वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक ये वीडियो प्रधानमंत्री

फैक्ट्स

बुर्का पहनी हुई महिला छात्राओं की तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। – FactCrescendo

सोशल मंचो पर अकसर सांप्रदायिकता को लेकर गलत दावों के साथ खबरें वायरल की जाती रहीं है। ऐसी ही एक तस्वीर इंटरनेट पर इन दिनों काफी चर्चा में है। तस्वीर में आप बहुत सारी महिलाओं को बुर्का पहने हुए देख सकते है, इन महिलाओं के बीच में हम एक पुरुष पुलिस अधिकारी को भी देख सकतें है। तस्वीर के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक तस्वीर में दिख रही सारी महिलायें केरल

फैक्ट्स

किसान विरोध प्रदर्शन में नहीं लगाए गए खालिस्तान-पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

केंद्र सरकार द्वारा नए कृषि कानून लागू किए जाने के बाद से पंजाब, हरियाणा सहित कई अन्य राज्यों के किसानों ने इस बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर किसान आंदोलन को लेकर तरह-तरह की तस्वीरें व खबरें खूब वायरल हो रही हैं। ऐसे में कई पुरानी तस्वीरों के माध्यम से फेक न्यूज़ भी फैलाई जा रही है। इसी दौरान सोशल मीडिया पर एक महिला की

फैक्ट्स

कृषि कानून के खिलाफ हो रहे मौजूदा किसान आंदोलन की नहीं है यह वायरल तस्वीर

केंद्र सरकार द्वारा नया कृषि कानून लागू किए जाने के बाद से पंजाब, हरियाणा सहित कई अन्य राज्यों के किसानों ने इस बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। इसी बीच सोशल मीडिया पर किसान आंदोलन को लेकर तरह-तरह की तस्वीरें व खबरें वायरल हो रही हैं। कई बार कई पुरानी तस्वीरों के माध्यम से फेक न्यूज़ भी फैलाई जा रही है। इसी दौरान सोशल मीडिया पर एक महिला की तस्वीर वायरल

फैक्ट्स

Quick Fact Check: Fake post goes viral in the name of Vedas, Upanishads, claim is false

By Vishvas News Updated: December 1, 2020 नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। धर्म विशेष के लोगों पर आपत्तिजनक टिप्‍पणी करते हुए इसे झूठे दावों के साथ वायरल कर रहे हैं। पहले भी एक बार यह तस्‍वीर वायरल हो चुकी है। विश्‍वास न्‍यूज ने उस वक्‍त भी वायरल तस्‍वीर की जांच की थी। हमें पता चला कि हैदराबाद की पुरानी तस्‍वीर को फर्जी दावों

फैक्ट्स

Fact Check: The viral image has nothing to do with the farmers protest in Delhi

By Vishvas News Updated: December 1, 2020 नई दिल्‍ली (Vishvas News)। देश की राजधानी दिल्‍ली की सीमा पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन और विरोध में सोशल मीडिया में फर्जी पोस्‍ट की बाढ़-सी आई हुई है। इसी क्रम में अब एक तस्‍वीर को वायरल करते हुए झूठ फैलाने की कोशिश की जा रही है। सोशल मीडिया पर एक तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसमें कुछ लोगों को एक बैनर पकड़े

फैक्ट्स

Fake post viral about Farmer Protest, picture does not shows Rajkumari Bansal

By Vishvas News Updated: December 1, 2020 नई दिल्‍ली (Vishvas News)। यूपी के हाथरस कांड के बाद विवादों में आईं मध्‍य प्रदेश की डॉक्‍टर राजकुमारी बंसल एक बार फिर से चर्चा में हैं। इस बार कुछ लोग सोशल मीडिया में एक महिला की तस्‍वीर को वायरल करते हुए उसे डॉक्‍टर राजकुमारी बंसल बता रहे हैं। दिल्‍ली में चल रहे किसान आंदोलन से इस तस्‍वीर को जोड़ते हुए दावा किया जा रहा

फैक्ट्स

अमित मालवीय ने वीडियो का एक हिस्सा ट्वीट कर दावा किया कि पुलिस ने किसानों को मारा ही नहीं

PTI के फ़ोटो जर्नलिस्ट रवि चौधरी ने एक बुज़ुर्ग किसान पर लाठी चलाते पुलिसकर्मियों की कुछ तस्वीरें खींची थीं. जिसके बाद से ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर ख़ूब शेयर की गईं. Capturing this moment was very difficult for me. https://t.co/mzmOEpMmnN — Ravi Choudhary (@choudharyview) November 28, 2020 राहुल गांधी ने ये तस्वीर ट्वीट करते हुए सरकार पर निशाना साधा. भाजपा आईटी सेल हेड अमित मालवीय ने एक बुज़ुर्ग किसान पर लाठी चलाते हुए पुलिसवाले के

फैक्ट्स

किसान प्रदर्शनों के दौरान आर्टिकल 370 हटाने का विरोध नहीं किया गया, पुरानी तस्वीर की गयी शेयर

केंद्र सरकार के 3 नए किसान कानूनों के खिलाफ़ किसानों की नाराज़गी बढ़ती जा रही है. पिछले कुछ दिनों से किसानों का ‘दिल्ली चलो’ आंदोलन चल रहा है. इस दौरान कॉलमिस्ट शेफ़ाली वैद्या ने एक तस्वीर ट्वीट की. इसमें उन्होंने लिखा, “ये किस तरह के किसान हैं? जो इमरान खान को अपना भाई बता रहे हैं, भारत माता की जय बोलने से मना कर रहे हैं और आर्टिकल 370 को वापस लागू करने की मांग