कोविद -19 से हृदय बीमारियों के मरीज नियमित चेकउप के लिए अस्पताल दौरे स्थगित कररहे हैं। लॉकडाउन दौरान दिल का दौरा पड़ने वाले रोगियों स्व-दवा कमी हुई। वही घरपर कार्डियक अरेस्ट मौतों में वृद्धि हुई शायद कारण चिकित्सा देरी है।  इससाल हृदय संबंधी बीमारियों स्वैच्छिक रूप से गिरावट देखी है तीव्र दिल के दौरे मामलों में, लगभग 3% रोगी हृदय में टूटना से पीड़ित हैं जिसका कारण चिकत्सक देरी है।

HealthWire

कोरोनावायरस का प्रसार पिछले दिनों में तेज हो गया है, नए संक्रमण तेजी से बढ़े। भारत का कोविद -19 50 लाख का आंकड़ा पार कर गया है।  पिछले सप्ताह एक दिन में 97,570 मामलों के साथ वैश्विक रिकॉर्ड बनाया है। 3 मिलियन से 4 मिलियन मामलों जाने में 13 दिन लगे। लॉकडॉन से कोविद19 को नियंत्रित किया जा सका।  भारत में प्रति मिलियन मामले 3,573 हैं, जबकि वैश्विक 3,704 है।

HealthWire

25 वर्षीय डॉ विकास सोलंकी इंटर्नशिप पूरी कर कोरोना संक्रमित हुए, एम्स इलाज के बाद भी उन्हें नहीं बचाया जा सका। वायरस ने उनके अग्न्याशय पर हमला किया। वे 1.5 महीने वेंटिलेटर पर रहे। आईएमए द्वारा एकत्र नवीनतम आंकड़ों के अनुसार,राष्ट्र ने 196 डॉक्टरों को खो दिया है। (अनऑफिसलय) सरकारी आंकड़ों के अनुसार 87,000 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हो गए थे, इनमे 573 कोविद -19 की वजह से जान गंवा चुके है।

HealthWire

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल नेदरभंगा, बिहार में नए AIIMS की स्थापना को मंजूरी दी है। इसे PM स्वास्थ्य सुरक्षा योजना  के तहत स्थापित किया जाएगा। कुल लागत 1264 करोड़ रुपये होगी और 48 महीनों में पूरा होने की संभावना है। नई एम्स में 100 एमबीबीएस सीटें और 60 बीएससी नर्सिंग सीटें होंगी। 15-20 स्पेशियलिटी विभाग व 750 बेड होंगे। इससे रोजगार के नए अवसर उत्पन्न होंगे।

ली-मेंग यान ने दावा किया है कि कोरोनोवायरस वुहान में सरकारी-नियंत्रित प्रयोगशाला में बनाया गया था, ब्रिटिश टॉक शो साक्षात्कार में उन्होंने वुहान में “नए निमोनिया” की जांच के दौरान कोरोनावायरस के बारे खोज की। वैज्ञानिक प्रमाण पर उनने दो रिपोर्ट की बात की कहा यह लोगों को सभी सबूत बताएगा। लेकिन चीन दुनिया को सही समय पर सच्चाई बतादेता , शायद घातक वायरस का प्रकोप नियंत्रित हो सकता था।

HealthWire

यूनिसेफ ने कोविद -19 प्रसार को रोकने के लिए उर्दू मीडिया के धार्मिक विद्वानों और संपादकों विचार-विमर्श किया। प्रिंट, टीवी और रेडियो का प्रतिनिधित्व करने वाले 70 से अधिक धार्मिक विद्वानों, विश्वास नेताओं और वरिष्ठ उर्दू पत्रकारों ने राष्ट्रीय वेबिनार ’में भाग लिया यूनिसेफ ने कहा सामाजिक गड़बड़ी दूर करने, मास्क पहनने, हैंडवाशिंग, अधिक सामुदायिक भागीदारी को प्रोत्साहित करने , पर बातचीत की। प्रतिभागियों ने सरकार की नीतियों का समर्थन किया। 

HealthWire

 Health Wire द्विध्रुवी विकार मानसिक विकार है यह भावनात्मक हाइपोमेनिया से भावनात्मक चढ़ाव तक एक चरण है।इसके कई लक्षण हो सकते जैसे उन्माद, हाइपोमेनिया, और अवसाद-जैसे परेशान होना असामान्य  तरीके व्यवहार करना।

इसके दो प्रकार उपचार हैं जो द्विध्रुवी रोगी को प्रदान करते हैं-

  • मूड स्टेबलाइजर- जिनके हल्के लक्षण हैं  इलाज दवा द्वारा किया जा सकता है।
  • फिजियोथेरेपी काउंसलिंग-मरीजों जिन्हें काउंसलिंग की आवश्यकता है 

 मरीज व्यवहार भावनात्मक अस्थिरता पहचानना बहुत महत्वपूर्ण है 

HealthWire

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कोरोनावायरस सकारात्मक परीक्षण किया है। उन्होंने ट्वीट किया, “हल्के बुखार के बाद, कोरोना परीक्षण जो सकारात्मक बताया गया है। मैंने खुदको एकांत रखा, मैं ठीक हूं। सांसदों सत्र शुरू होने से पहले कोविद19 परीक्षण अनिवार्य था। 30 सांसदों और 50 से अधिक कर्मचारियों ने पॉजिटिव आये। कुछ सांसदो ने ट्विटर से बताया। जिनमें सांसद मीनाक्षी लेखी, सुरेश अंगड़ी, राम शंकर कठेरिया, प्रवेश वर्मा है

HealthWire

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने ‘रविवार संवत’ पर सोशल मीडिया बातचीत में बताया वैक्सीन लॉन्च की कोई तारीख तय नहीं है, 2021 की पहली तिमाही तक तैयार हो सकता है। वैक्सीन कई चरणोंकी लंबी प्रक्रिया है,सबसे महत्वपूर्ण मानव परीक्षण है। परीक्षण में फास्ट-ट्रैकिंग प्रक्रिया से लोगों की सुरक्षा,स्वास्थ्य के लिए गंभीर परिणाम हो सकते हैं। हम वैक्सीन बनाने में दुनिया से बहुत पीछे नहीं है। जबतक दिशानिर्देश का पालन करना होगा

HealthWire

सोशल मीडिया पर एक नीले तरबूज की तस्वीर शेयर हो रही है दावा किया गया है ये नीला तरबूज मून मेलन है जो जापान में मिलता है। इस इमेज को पहले भी कई बार शेयर किया जा चूका है। फैक्ट चेक पर सामने आया ये तस्वीर गलत है। इस तस्वीर को फोटोशॉप से एडिट किया गया है। इस तरह का व नाम का कोई भी फल या सब्जी नहीं है।

THIP Media

कोविद -19 महामारी ने सार्वजनिक स्वास्थ्य, देखभाल पर वैश्विक प्रभाव डाला। डॉ वैश्य ने बताया 65 वर्ष लोग COVID19 जटिलताओं में उच्च जोखिम में हो सकते हैं। ऐसे में चोट रोकने हेतु मजबूत, लचीली मांसपेशियों जोड़ों को मजबूत करे, धीरे स्ट्रेच करें, दर्द होने वाले व्यायाम न करे। व खतरों, खर्च बिना समय पर प्रभावी आर्थोपेडिक देखभाल प्राप्त कर सकते हैं। शरीर को स्वस्थ रखने हेतु चिकित्सक से संवाद करे ।

HealthWire

कोविद -19 रोगियों को फेफड़े हृदय क्षति हो सकती है ये श्वसन रोग का कारण बनता है गंभीर में, निमोनिया का भी । डॉ जीनम शाह के इन समस्या से निपटने के कुछ सुझाव देते है।

  • सेब, पपीता, अनानास, कीवी, गोभी, गाजर, हल्दी, और अदरक ले।
  • व्यायाम, योग, ध्यान आदि अपनाये
  • धूम्रपान, जहरीले इनहेलेंट्स से बचें,मास्क पहनें।
  • ब्रीदिंग एक्सरसाइजसे करें।
  • फेफड़ों की बीमारी वाले डॉक्टर से सलाह से टीका लगवाए।

HealthWire

गर्भावस्था स्किनकेयर, जो समस्याओ से छुटकारा पाने में मदद करेंगे। 

  • बाहर हों सनस्क्रीन लगाए।
  • उन उत्पादों का उपयोग न करें जिनमें सैलिसिलिक एसिड / या रेटिनोइड, आइसोट्रेटिनॉइन ,ओरल टेट्रासाइक्लिन शामिल हैं
  • मेकअप स्किनकेयर में गैर-कॉमेडोजेनिक, सुगंध-मुक्त उत्पादों यूज न करे
  • रात में मेकअप हटा दे।
  • त्वचा मॉइस्चराइज रखें।
  • चेहरा गुनगुने पानी से धोएं।
  • ओवरस्क्रब न करें,।
  • त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करें।
  • तनाव न लें।
  • अपने तकिए, तौलिए को बार-बार बदलें।

HealthWire

पिछले हफ्तों में COVID19 केस में वृद्धि के बाद अब मामले 4660000  है , हैदराबाद शोधकर्ताओं बिट्स पिलानी टीम ने शुक्रवार को कहा अक्टूबर तक COVID19 मामलों की संख्या 70-लाख के आंकड़े पार करने की सम्भावना है। हो सकता है ये US को पीछे छोड़ शीर्ष पर आ जाये। हलाकि कोविद -19 मामले में भारत में मृत्यु दर में 1.67 प्रतिशतकी गिरावट आई है रिकवरी दर 77.65 प्रतिशत दर्ज हुई।

HealthWire

सड़क दुर्घटनाएँ आम घटना है। लेकिन मानसून में ये काफी बढ़ जाती है। ऐसे में अतिरिक्त सतर्क रहे।

  • स्पीड डायल नंबर सेव करें।
  • फिसलन सड़कों पर धीरे उतरें।
  • पुराने ब्रेक पैड और कॉलिपर्स बदलें।
  • जलमग्न सड़कों से बचें।
  • कृपया कार के वाइपर जांच करें
  • सामने वाली कार से दूरी बनाए।
  • दुर्घटना के गवाह हैं पीड़ित की मदद में संकोच न करें।
  • पैदल यात्री चमकीले कपड़े और रेनकोट पहन सतर्क रहे।  

HealthWire

एक 16 वर्ष के लड़के की बिजली का झटका लगने के बाद निर्जीव हालत हो गयी थी, उसने सासे लेना बंद कर दिया था उसे इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल लेजाया गया। Dr प्रियदर्शनीपाल ने बचने के कम चान्सेस बताये। उन्होंने और उनकी टीम ने समय से उपचार किया कार्डियक अरेस्ट में रोगी को पुनर्जीवित करने हेतु CPR दि।जिससे उसके अंगो को नुकसान नाहो , और रोगी को बचाया जा सका।

HealthWire

कोविड19 से बचने के लिए उत्तम रोग प्रतिरोधक छमता जरुरी है। जिसे कुछ आयुर्वेदिक चीज़े के इस्तेमाल से बढ़ाया जा सकता है, इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय:

  • सुबह च्यवनप्राश 1tsf लें।
  • तुलसी, दालचीनी, कालीमिर्च, गिलोय, शुंठी और मुनक्का बनी हर्बल काढ़ा दो बार पिएं
  •  हल्दी गर्म दूध में लें।
  • गर्म पानी पिएं।
  • 30 मिनट योगासन, प्राणायाम और ध्यान अभ्यास।
  • खाना पकाने में हल्दी, जीरा, धनिया और लहसून जैसे मसालों लें।

HealthWire

तनाव के कारण आत्महत्या के मामले आते है इनमे कई मशहूर हस्तिया भी है , डॉ समीर पारिख कहते है आत्महत्या रोकथाम में सकारात्मकता को बढ़ावा दे, बताएं कि अंधेरे में आशा है।अगर तनाव हो, तब भावनाओं को समझें, स्वीकार करें तनाव का प्रबंधन करे मूड को संतुलित करे । योग, मेडिटेशन, प्रगतिशील मांसपेशी विश्राम तनाव दूर में सहायक, मानसिक स्वास्थ्य ज्यादा खराब होने पर डॉक्टर से सलाह ले।

HealthWire

COVID-19 मास्क हर समय उपयोग के कारण होने वाली त्वचा समस्या, से रक्षा सुझाव

  • फेस मास्क का उपयोग करने से पहले सौम्य क्लीन्ज़र हल्के मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें।
  • एक हल्के  फेस वॉश से अपना चेहरा धोना, कठोर क्षारीय साबुन से बचना।
  • मेकअप को छोड़ दें।
  • प्राकृतिक सामग्रियों से बनेमास्क का उपयोग करें
  • एक रात स्किनकेयर रूटीन का पालन करें
  • 3 लीटर पानी पिएं और देर रात तक बचें।

HealthWire