Press enter to see results or esc to cancel.

हथिनी को NGO सेंटर ले जाने वाला वीडियो का नहीं PETA से कोई सम्बन्ध। पढ़िए पूरी खबर।

एक हाथी को ट्रक में ले जाने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। वीडियो में हाथी को बीच रास्ते ही ट्रक से उतर कहीं जाते हुए देखा जा सकता है।  PETA इंडिया पर हाथी के साथ ज़बरदस्ती करने का आरोप लगाया गया है। यह तीनों हथनियां  तमिलनाडु के कामाक्षी मंदिर में रहती थीं। मंदिर अधिकारियों ने 2016 में इन्हें मरक्कानम कैम्प में भेजा था | साढ़े तीन साल तक वहीँ रहीं और बाद में हाईकोर्ट के आदेश पर इन्हें तिरुच्चिरापल्ली के एमआर पलायम स्थित पुनर्वास सेंटर भेजा गया। इसका PETA इंडिया से कोई सम्बन्धनहीं है। वीडियो 2016 में हाथिनियों को मंदिर से मरक्कानम सेंटर ले जाने का है।

और पढ़े पर Alt News/ कुछ घंटे पहले

क्या है केरल विमान हादसे में मारे गए कैप्टन दीपक साठे के वायरल वीडियो का सच ?

एयर इंडिया एक्सप्रेस फ़्लाइट IX1344, 7 अगस्त को 190 यात्रियों के साथ करीपुर हवाई अड्डे में रनवे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी।  मुख्य कमांडिंग कैप्टन दीपक वसंत साठे समेत 16 अन्य लोगों ने जान गंवा दी।  इसी बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रहा है जिसमें नेवी की पोशाक पहने एक अधिकारी गाना गा रहे हैं। आपको बता दें कि वीडियो में ये अधिकारी वसंत साठे नहीं बल्कि वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा हैं जो भारतीय नौसेना की 50वीं सालगिरह के मौके पर गाना गा रहे हैं।

और पढ़े पर Alt News/ कुछ घंटे पहले

क्या खेती में यूरिया का उपयोग बैन करने वाली है सरकार ? जानिये पूरी खबर।

और पढ़े पर PIB Fact Check / कुछ घंटे पहले

Image source – www.dreamstime.com/

न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री का राम मंदिर का दौरा करने की खबर सच नहीं।

10 अगस्त को न्यूज़ीलैंड में  एक भी कोरोना पॉज़िटिव केस नहीं मिलने के 100 दिन पूरे हुए। इसके मद्देनज़र प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न का  विडियो इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि न्यूज़ीलैंड के कोरोनावायरस मुक्त होने के बाद उन्होंने राम मंदिर का दौरा किया।  न्यूज़ीलैंड में इसी साल 19 सितंबर को राष्ट्रीय चुनाव होने हैं , इसलिए अर्डर्न ऑकलैंड के एक राधा कृष्णा  मंदिर गयीं थीं। ये  वीडियो वहीँ का है।

और पढ़े पर Times Fact Check | नवभारत टाइम्स / कुछ घंटे पहले

क्या सच में वैक्सीन ट्रायल के वीडियो में दिख रही लड़की है पुतिन की बेटी ?

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दावा किया है कि रूस ने कोरोना की वैक्सीन बना ली है। उनकी बेटी को भी इसका डोज दिया गया है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक स्वास्थ्यकर्मी द्वारा लड़की को इंजेक्शन दिए जाने का वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह लड़की पुतिन की बेटी है। असल में यह लड़की पुतिन की बेटी नहीं, बल्कि रूस में कोरोना वैक्सीन ट्रायल के लिए चुनी गई एक वॉलनटियर , नटालिया है।

और पढ़े पर Aaj Tak / कुछ घंटे पहले

रेलवे द्वारा 30 सितम्बर तक सभी ट्रेनें रद्द किये जाने का दवा है झूठ। जानिये पूरी खबर।

सोशल मीडिया झूठा दावा किया जा रहा है कि कोरोना के मद्देनज़र भारतीय रेलवे ने 30 सितंबर तक सभी पैसेंजर, एक्सप्रेस और अन्य ट्रेनों को बंद कर दिया है। रेल मंत्रालय ने 11 अगस्त को बयान दिया है कि सारी स्पेशल ट्रेनें पहले की तरह चलती रहेंगी पर नियमित पैसेंजर और सबअर्बन ट्रेनें सस्पेंड रहेंगी। जरूरत के मुताबिक स्पेशल ट्रेनों को बढ़ाया जा सकता है। भारतीय रेल ने अपने ट्विटर हैंडल पर यह बात स्पष्ट की है।

और पढ़े पर Vishvas News/ कुछ घंटे पहले

क्यों पति से मिलने के लिए बर्तन धोने की नौकरी करने लगी पत्नी ?

अमेरिका के फ्लोरिडा में मैरी डेनियल नाम की महिला ने अपने पति से मिलने के लिए बर्तन धोने की नौकरी स्वीकार कर ली। उनके पति स्टीव अस्पताल में भर्ती थे। लोकडाउन के कारण वो अपने पति से मिल नहीं पा रहीं थीं। उस नर्सिंग होम में एक पार्ट टाइम डिशवॉशर की ज़रूरत थी। मैरी ने तुरंत ये नौकरी स्वीकार कर ली। अब वो हफ्ते में दो दिन नर्सिंग होम में काम करतीं हैं।

और पढ़े पर Times Fact Check | नवभारत टाइम्स / कुछ घंटे पहले

Image Source – nypost.com

जानवरों के नदी में डूबने का वीडियो केरल का नहीं। जानिये पूरी खबर।

केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश के कारण बाढ़ के हालात हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें नदी में कुछ पशुओं को बहते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि वीडियो केरल के कोट्टायम का है। जांच करने पर पता चला कि ये वीडियो मेक्सिको में आये हैना तूफान के बाद का है। कोट्टायम की डीएम एम अंजना ने भी पुष्टि की है कि यह वीडियो कोट्टायम का नहीं है।

और पढ़े पर Vishvas News/ कुछ घंटे पहले

Viedo link – https://www.youtube.com/watch?time_continue=16&v=ZCYRxqUOjs0&feature=emb_logo

सिद्धलिंगेश्वर उत्सव में शामिल हुए हजारों लोग? जानिए सच

कलबुर्गी, कर्नाटक में  सिद्धलिंगेश्वर मंदिर रथ उत्सव की एक फोटो सोशल मीडिया पर लगातार शेयर की जा रही है जिसमें दावा है हजारों लोग लाॅकडाउन के चलते, नियमों का उल्लंघन कर उत्सव में शामिल हुए।

फैक्ट चेक करने पर पता चला  उत्सव में भीड़ एकत्रित हुई थी। पर जो फोटो शेयर की जा रही है वह उस दिन की नहीं है। उस दिन की फोटो में शेयर की गई फोटो के मुकाबले कम लोग हैं।

और पढ़े पर Quint / कुछ घंटे पहले

क्या नोटों से फैलाया जा रहा है करोना?

सोशल मीडिया पर लगातार दो वीडियो वायरल हो रहे हैं। जिसमें सड़क पर नोट बिखरे हुए है। वीडियो इस दावे के साथ शेयर की जा रही है कि यह इंदौर की है। जहां एक मुस्लिम व्यक्ति ने कोरोनावायरस को फैलाने के लिए सड़क पर नोटों को फेंका है। वीडियो की पड़ताल की गई तो  पाया की वीडियो इंदौर का ही है। नोटो का कोरोना से कोई संबंध नहीं है, इंडियन गैस डिलीवरी एग्जीक्यूटिव की जेब से खाटीपुर  इलाके में डिलीवरी के समय नोट सड़क पर गिर गए थे।

और पढ़े पर Quint / कुछ घंटे पहले

Image Source – Video from Navvharat Times