Press enter to see results or esc to cancel.

Fact Check: पाकिस्तान के वीडियो को हैदराबाद के हॉस्पिटल का बता कर किया जा रहा है वायरल Vishvas News

  • By Vishvas News
  • Updated: June 28, 2020


नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर आज कल एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें हॉस्पिटल के बाहर स्ट्रेचरों पर बहुत से मरीज़ों को देखा जा सकता है। इस पोस्ट में यह बताने की कोशिश की जा रही है कि यह वीडियो हैदराबाद का है जहाँ हॉस्पिटल में मरीज़ों के लिए जगह नहीं है और मरीज़ हॉस्पिटल के बाहर हैं।

विश्‍वास न्‍यूज ने इस पोस्ट की पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो का भारत से कोई संबंध नहीं है। यह वायरल वीडियो पाकिस्तान के लाहौर के सर्विसेज हॉस्पिटल का है, न कि भारत का। यह उस समय का है जब सर्विसेज हॉस्पिटल के सर्जिकल आपातकालीन वार्ड में आग लग गई थी और मरीजों को इमारत से बाहर निकाला गया था।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक से लेकर वॉट्सऐप तक पर इस वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। एक ऐसे ही फेसबुक पेज Fight For Humanity ने 25 जून को इस वीडियो को अपलोड करते हुए लिखा : ‘Dangerous situation in Old City (hyderabad)’

इस पोस्ट का फेसबुक लिंक और आर्काइव लिंक यहां है।

पड़ताल

पड़ताल की शुरूआत करने के लिए हमने वायरल वीडियो को InVID टूल में अपलोड करके कई वीडियो ग्रैब निकाले और इन्‍हें गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल में खोजना शुरू किया। हमें इस वीडियो से जुडी खबर https://gulfnews.com/ पर मिली। 16 जून 2020 को प्रकाशित इस खबर के अनुसार “शनिवार, 13 जून को लाहौर के सर्विसेज अस्पताल के सर्जिकल इमरजेंसी वार्ड में आग लग गई और हॉस्पिटल के बाहर निकाले गए मरीजों के एक वीडियो ने सोशल मीडिया पर भ्रम की स्थिति पैदा कर दी।”।

इस वीडियो को Galaxy Pakistan { Rida Asim } नाम के यूट्यूब चैनल ने Jun 16, 2020 को अपलोड किया था। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन में लिखा था “सर्विसेज अस्पताल में आग लगने के बाद का दृश्य।”

पड़ताल के दौरान हमने पाकिस्तान के लाहौर में स्थित सर्विसेज अस्पताल के कम्युनिकेशन इंचार्ज अयूब खान से बात की। उन्होंने कहा “13 जून को सर्विसेज अस्पताल के सर्जिकल इमरजेंसी वार्ड में ऑपरेशन थिएटर के चेंजिंग रूम में शार्ट सर्किट के कारण आग लग गई थी। ऐसे में हॉस्पिटल ने सक्रिय कदम उठाते हुए वार्ड के सभी मरीज़ों को सबसे पहले रेस्क्यू करके बहार निकाला था। यह वीडियो वहीँ का है।”

अंत में हमने फेसबुक पेज Fight For Humanity की जांच की। हमें पता चला कि पेज को 210 लोग फॉलो करते हैं।



निष्कर्ष:


विश्‍वास न्‍यूज ने पाया कि वायरल वीडियो पाकिस्तान के लाहौर के सर्विसेज हॉस्पिटल का है, न कि भारत का। यह उस समय का है जब सर्विसेज हॉस्पिटल के सर्जिकल आपातकालीन वार्ड में आग लग गई थी और मरीजों को इमारत से बहार निकाला गया था।

  • Claim Review : Dangerous situation in Old City (hyderabad)
  • Claimed By : Fight For Humanity
  • Fact Check : झूठ


झूठ


    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल


  • सच


  • भ्रामक


  • झूठ

पूरा सच जानें… किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं…

कोरोना वायरस से कैसे बचें ?
PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स