एक वीडियो जिसमें मुस्लिम समुदाय के लोगों को हजारों की संख्या में विरोध प्रदर्शन करते हुये देखा जा सकता है, इस वीडियो को सोशल मीडिया पर यह दावा करते हुए फैलाया जा रहा है कि यह पश्चिम बंगाल की घटना है जहाँ हज़ारों मुस्लिम इस तरह विरोध प्रदर्शन कर रहे है | इस वीडियो के बैकग्राउंड में हम
इस्लामी क्रांति गीत का ऑडियो सुन सकते है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “यह बंगाल हैं, कल up, बिहार, दिल्ली, फिर राजस्थान, mp, गुजरात मे भी हो तो आश्चर्य नहीं होगा |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक | फेसबुक पोस्ट 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इन्विड टूल के माध्यम से गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की, जिसके परिणाम से हमें १३ सितंबर २०१७ को स्पाइस इन्फो ट्यूब नामक एक यूट्यूब चैनल द्वारा प्रसारित वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “इस्लामी आन्दोलोन बांग्लादेश एन्क्लोस म्यांमार एम्बेसी |” 

वीडियो को ध्यान से देखने पर, हमें वीडियो के 0.37 सेकंड पर बांग्लादेश का झंडा दिखाई दिया। प्रदर्शनकारियों के हाथ में प्लेकार्ड को ध्यान से देखने पर, हमें पता चला कि यह रोहिंग्या मुसलमानों पर अत्याचारों के विरुद्ध प्रदर्शन है | प्लेकार्ड पर, हम कुछ संगठनों का नाम देख सकते है जैसे कि “इस्लामी जुबो आन्दोलन” और “इस्लामी श्संतंत्र छात्र आन्दोलन” | इन संगठनों को ढूँढने पर हमने पाया कि ये दोनों संगठन बांग्लादेश के हैं |

जब हमने कीवर्ड का उपयोग करते हुए आधिकारिक ख़बरों की खोज की, तो हमें बांग्लादेशी राष्ट्रीय चैनल “चैनल आई न्यूज़” नामक आधिकारिक यूट्यूब चैनल द्वारा 13 सितंबर 2017 को पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला |

हालाँकि ये दृश्य सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो के समान नहीं हैं, लेकिन हमें इस वीडियो में प्रदर्शनकारियों द्वारा रखे गए समान प्लेकार्ड और झंडे मिले | वीडियो में, यह बांग्लादेश के ढाका में म्यांमार के एम्बेसी के पास मुस्लिम समूहों द्वारा विरोध से संबंधित घटना के रूप में उल्लेख किया गया है | उन्होंने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों पर अत्याचारों के चलते म्यांमार सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था |

हमें इस विरोध के बारे में द न्यूज़ इंडियन एक्सप्रेस की वेबसाइट द्वारा प्रकाशित एक लेख मिला | लेख में, यह उल्लेख किया गया है कि ढाका में म्यांमार एम्बेसी के पास, “इस्लामी एंडोलन बांग्लादेश” संगठन के कम से कम 15,000 समर्थकों ने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों पर अत्याचार के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया |

आर्काइव लिंक

तद्पश्चात हम गूगल मैप्स पर इस विरोध क्षेत्र के स्थान को ढूँढने लगे | हमें वीडियो के एक की-फ्रेम में बंगाली में लगी एक होर्डिंग के साथ एक इमारत दिखी जिसमे लिखा गया है कि “इस्लामिया बैंक सेंट्रल हॉस्पिटल” | गूगल मैप्स पर सर्च करने पर हमें यह अस्पताल काजी नजरूल इस्लाम रोड, ढाका पर स्थित मिला | 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात् हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | बांग्लादेश में हुये एक बड़े पैमाने के विरोध के वीडियो को पश्चिम बंगाल में हुये विरोध के रूप में फैलाया जा रहा है |

Avatar

Title:बांग्लादेश में बड़े पैमाने पर विरोध के वीडियो को पश्चिम बंगाल में हुये विरोध का बता फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False



और पढ़े FactCrescendo | The leading fact-checking website in India पर /कुछ घंटे पहले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *